बिहार का इतिहास / बिहार के बारे में कुछ रोचक तथ्य बिहार के बारे में कुछ रोचक तथ्य/ बारे में पूरी जानकारी बारे में पूरी जानकारी

बिहार का इतिहास
                        बिहार का इतिहास                                 

बिहार भारत के उत्तर भाग में स्थित एक प्रसिद्ध ऐतिहासिक राज्य है और उसकी राजधानी पटना है। बिहार के उत्तर में नेपाल दक्षिण में झारखंड पूर्व में पक्षी और बंगाल और पश्चिम में उत्तर प्रदेश स्थित है बिहार नाम प्रभु भाड़ बौद्ध सेना सन्यासियों के ठहरने का स्थान बिहार शब्द हुआ है जिसे बिहार के स्थान पर इसके स्वरूप बिहार से संबोधित किया जाता है।

 यह क्षेत्र गंगा नदी तथा उसकी सहायक नदियों के उपजाऊ मैदान में बसा है। प्राचीन काल में विशाल साम्राज्य का ग्रहण बता रहा है कि अब प्रदेश वर्तमान में देश की अर्थव्यवस्था के सामान्य योग दाताओं में से एक गया है। पटना राज्य की वर्तमान राजधानी तथा महान ऐतिहासिक स्थल है। अतीत में यह सत्य है कि धर्म तथा ज्ञान का केंद्र रहा है निम्न अस्थल पटना के महत्वपूर्ण दर्शनिक स्थल हैं।

 प्राचीन एवं मध्यकालीन इमारतें: कुमराहार प्रेस, परिषद घुमा घुमा, महेंद्रुघाट, शेरशाह के द्वारा बनवाए गए किले का अवशेष।

 ब्रिटिश कालीन भवन: जालान म्यूजियम, गोलघर पटना, संग्रहालय विधानसभा, भवन हाईकोर्ट ,भवन सदाकत, आश्रम।

 धार्मिक स्थल: महावीर मंदिर, बड़ी पाटन, पाटन देवी छोटी पटन देवी, शीतला माता, मंदिर इस्कॉन, मंदिर हरमिंदर, महोदधि महाबोधि मंदिर।

 ज्ञान विज्ञान के केंद्र: पटना तारामंडल, पटना विश्वविद्यालय, सच्चिदानंद सिन्हा लाइब्रेरी, संजय गांधी जैविक उद्यान, श्रीकृष्ण सिन्हा विज्ञान केंद्र खुबक खुदाबख्श लाइब्रेरी एवं विज्ञान परिषद सारण तथा आसपास

 भारत में क्षेत्रफल की दृष्टि से बिहार वर्तमान में 13 वां राज्य है। गणतंत्र की शुरुआत सर्वप्रथम बिहार की लिछवी गणराज्य  से हुई थी। जननी सीता का जन्म बिहार के सीतामढ़ी में हुआ था। राजकुमार गौतम सिद्धार्थ से बुध बिहार के गया में ही हुए थे। बौद्ध विहार ओं की अधिकता के कारण इस राज्य का नाम बिहार पड़ा।

 इस राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हैं। इस राज्य के राज्यपाल फागू चौहान है। इस की जनसंख्या 99.02 मिलियन (2012) बिहार का प्राचीन नाम मगध है। इस राजधानी प्राचीन में राजगीर थी। सारण जिले में गंगा नदी के उत्तरी किनारे पर चिरांद नवपाषाण युग और ताम्र युग से एक कुर्ता क्विक रिकॉर्ड है।

बिहार के क्षेत्र जैसे मगध मिथिला औरंग धार्मिक ग्रंथों और प्राचीन भारत के महाकाव्यों के वर्णित है। एक समय बिहार शिक्षा के सर्व प्रमुख केंद्रों में गिना जाता था नालंदा विश्वविद्यालय विक्रमशिला विश्वविद्यालय तथा प्राचीन बिहार के गौरवशाली एंड थे। हाल के दिनों में उच्च शिक्षा की स्थिति सुधारने सुधरने लगी है प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षा की स्थिति भी अच्छी हो रही।

DRDO Scientist B Recruitment 2020

 बिहार राज्य भारतीय गणराज्य के संग बिहार राज्य भारतीय गणराज्य के संग देश-दुनिया व्यवस्था के अंतर्गत आता है राज्य के सामाजिक मुखिया मुखिया राज्यपाल ने वास्तविक सत्य मंत्री और मंत्री प्रसिद्ध के हाथ में होता है। विधानसभा में चुनकर आने वाले विधायकों द्वारा मुख्यमंत्री का चुनाव 5 वर्षों के लिए किया जाता।

 प्रत्यक्ष चुनाव में बहुमत प्राप्त करने वाले राजनीतिक दल अथवा गठबंधन के आधार पर सरकार बनाए जाते। उच्च सदन या विधान परिषद के सदस्यों का चुनाव और अप्रत्यक्ष ढंग से 6 वर्षों के लिए होता है।

Post a comment

0 Comments